Monday, 8 December 2014

मेरा पहला एकल कविता संग्रह ............अकुलाहटें मेरे मन की. -अंजुमन प्रकाशन

नई पुस्तक (साहित्य सुलभ संस्करण 2015)
अकुलाहटें मेरे मन की / कविता संग्रह - महिमा श्री / पृष्ठ - 112 / सामान्य मूल्य 120 रुपये / साहित्य सुलभ संस्करण के अंतर्गत मूल्य - 20 रुपये / बाईंडिंग - पेपरबैक / संस्करण - प्रथम, 2015 / आवरण चित्र - रोहित रुसिया / isbn - 9789383969470 /www.anjumanpublication.com
















Post a Comment